हमारी संस्कृति
"कैसे बना था श्रीराम और सीता माता के विवाह का संयोग"

विवाह पंचमी को एक पर्व के रूप में मनाया जाता है। पौराणिक कथाओ के अनुसार कहा जाता है की इस दिन भगवान श्रीराम और सीता माता का विवाह हुआ था। इस दिन को....

रावण की लंका की चमक को किसने किया फीका

रामायण में वर्णित लंका कांड के अनुसार हनुमान जी ने रावण की सोने की लंका में आग लगाई थी लेकिन रावण की सोने की लंका को काला किसने किया था। जब रावण ने....

गरुड, सुदर्शनचक्र और श्रीकृष्ण की रानियों का गर्व-भंग
एक बार भगवान श्रीकृष्ण ने गरुड को यक्षराज कुबेर के सरोवर से सौगंधिक कमल लाने का आदेश दिया। गरुड को यह अहंकार तो था ही कि मेरे समान बलवा....
श्री हनुमान क्यों हुए सिंदूरी

कहा जाता है जब रावण को मारकर राम जी सीता जी को लेकर अयोध्या आए थे। तब हनुमान जी ने भी भगवान राम और माता सीता के साथ आने की जिद की। राम जी ने उन....

भक्ति की अद्भुत पराकाष्ठा की मिसाल भगवान हनुमान
लंका मे रावण को परास्त करने के बाद श्रीराम, माता सीता, लक्ष्मण और हनुमान के साथ अयोध्या लौट चुके थे। प्रभु राम के आने की खुशी में पूरे अयोध्या मे....
माता सीता के स्वयंवर की कथा
माता सीता के स्वयंवर की कथा वाल्मीकि रामायण और रामचरित मानस के बालकांड सहित सभी रामकथाओं में मिलती है। वाल्मीकि रामायण में जनक द्वारा सीता के लिए वीर्....
केवट के भाग्य
श्रीराम के बार-बार मना करने पर भी अयोध्यावासी वापस नहीं लौट रहे थे। श्रीराम भी उनके दु:ख से दु: खी थे। पूरी रात अभी बाकी थी। तभी श्रीराम ने सुमन्त्र क....
एक पत्नीव्रत धर्म
श्रीरघुनाथ जी ने अकनारीव्रत को चरितार्थ करके महान आदर्श उपस्थित कर दिया । यद्यपि आपको स्मृतिकारों के प्रमाणनुसार चार विवाहों की प्रचलित प्रथा की मर्य....
सीता शुकी संवाद
एक दिन परम सुंदरी सीता जी सखियों के साथ उद्यान में खेल रही थीं । वहां उन्हें शुक पक्षी का एक जोड़ा दिखायी दिया जो बड़ा मनोरम था । वे दोनों पक्षी एक ड....
आज का भजन
आज का पंचांग
आज का दर्शन
© 2017 Sanskar Info Pvt. Ltd.
All rights reserved | Legal Policy
कार्यक्रम विवरण | हमारे बारे में | संपर्क