आज का भजन
आज का पंचांग
आज का दर्शन




| हमारी संस्कृति
योगमाया की भविष्यवाणी
कन्हैया द्वारा शालग्राम की चोरी गोकुल में चारो तरफ आनंद छाया रहता था। वहां के निवासी श्री कृष्ण की लीला देखते नहीं अघाते थे और श्रीक....
मर्यादा पालन क्यों ? आहार निद्रा भय मैथुन आदि क्रियाएं समस्त जीवों की समान होते हुए भी जो विशेषता मनुष्य को इन सभी से अलग....
दैत्यराज विरोचन की दानशीलता दैत्यराज विरोचन भक्तश्रेष्ठ प्रहलाद के पुत्र थे और प्रहलाद के पश्चात् ये ही दैत्यों के अधिपति बने थे....
काशी के लोलार्क कुंड में विराजते हैं सूर्य एक बार भगवान शिव ने सूर्य देव को बुलाकर कहा- सप्ताश्ववाहन ! तुम काशीपुरी को जाओ। वहां का राजा परम धा....
सबसे बड़ा संयम है मौन

मौन रहने व कम बोलने से ना केवल हमारी वाणी का....

जानिए किन चार तरह के व्यक्तियों को नींद नहीं आती
कर्ण की धर्मनिष्ठता
‎शिक्षाप्रद कहानियां‬- संकट का सामना करने के लिए साहस जरूरी
आयुर्वेद सिद्धात रहस्य में आज बात करेंगे रात्रिचर्या की।
रात्रिचर्या‬
आयुर्वेद के आठ अंग
| कथाएं
श्रीमद्भागवत कथा - भाईश्री - लीसेस्टर । दिन 8
श्रीमद्भागवत कथा - भाईश्री - लीसेस्टर । दिन 7
श्रीमद्भागवत कथा - भाईश्री - लीसेस्टर । दिन 5
श्रीमद्भागवत कथा - भाईश्री - लीसेस्टर । दिन 6
श्रीमद्भागवत कथा - भाईश्री - लीसेस्टर । दिन 4
| प्रवचन
अमृत वचन - सुधांशु जी महाराज || एपिसोड 1
प्रवचन सरिता - अवधेशानंद गिरि जी ॥ एपिसोड 2
देवी भागवत कथा - साध्वी ऋतंभरा || भाग 03
प्रवचन सरिता ॥ एपिसोड 1
देवी भागवत कथा - साध्वी ऋतंभरा || भाग 02
| भजन
सब कुछ बदल जाता है ॥ सौरभ, मधुकर
बिहारी जी की बड़ी-बड़ी अंखियां ॥ आरुषि गंभीर
शशि ढल रहा ॥ सुमन माल
सांई मेरे सांई ॥ अरुण गोयल
न तो राधा हूं मैं ॥ शीतल चौहान


© 2016 Sanskar Info Pvt. Ltd.
All rights reserved | Legal Policy
कार्यक्रम विवरण | हमारे बारे में | संपर्क